सीबीआई ऑफीसर कैसे बने? सीबीआई ऑफिसर बनने के लिए योग्यता और परीक्षा

सीबीआई भारत की मुख्य जांच एजेंसीज में से एक है. यदि आप सीबीआई ऑफीसर बनने में इच्छुक है तो यह लेख आपको सीबीआई ऑफीसर बनने के लिए एक अच्छा मार्गदर्शन करेगा.

आपने खबरों में CBI के बारे में पढ़ा और सुना जरूर होगा, CBI एक सरकारी जांच एजेंसी है यह भारत की सुरक्षा और बड़े अपराधिक मामलों में जांच करने के लिए बनाई गई है. सीबीआई ऐसे मामलों की जांच करती है जिनको आम जांच एजेंसी के द्वारा सुलझाना मुश्किल होता है. यदि आप सीबीआई के बारे में जानने के लिए बहुत उत्सुक है, या स्वयं CBI officer बनने में रुचि रखते हैं तो आज के लेख में आपको सीबीआई से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां दी जाएंगी.

CBI Full Form

Central Bureau Of Investigation

केंद्रीय जांच ब्यूरो

CBI Kya Hai (सीबीआई क्‍या है)

अपराधी लगातार अपराध करते रहते हैं लुटेरे लूटते रहते हैं और हत्यारे हत्या करते रहते हैं. कई मामले तो आसानी से सामान्य पुलिस के द्वारा ही सुलझा लिए जाते हैं परंतु कई ऐसे भी मामले होते हैं जिनको सुलझाने के लिए अत्यधिक विकसित संस्थानों की जरूरत पड़ती है. भारत में ऐसे ही संस्थान का नाम है केंद्रीय जांच ब्यूरो जिस इंग्लिश में सीबीआई अथवा सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन कहते हैं.

सीबीआई की स्थापना विशेष पुलिस संस्था के रूप में सन 1941 में की गई थी और सीबीआई का मुख्यालय भारत की राजधानी नई दिल्ली जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम के पास स्थित है.

सीबीआई का अर्थ है सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन अर्थात केंद्रीय जांच ब्यूरो. यह भारत की प्रमुख जांच एजेंसी है. सीबीआई को कई तरह के बड़े आर्थिक अपराध, भ्रष्टाचार के मामलों, चर्चित अपराधिक घटनाओं और अन्य कई हाई प्रोफाइल मामलों में जांच के लिए निमंत्रित किया जाता है या फिर सरकार के द्वारा इन्हें जांच की जिम्मेदारी दी जाती है.

जैसा कि नाम से ही स्पष्ट होता है कि CBI किसी भी मामले में जांच संबंधी कार्य ही करती है मुख्य रूप से यह कार्य सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद किए जाते हैं. सीबीआई किसी राज्य के अंतर्गत सीमित नहीं होती आवश्यकता पड़ने पर यह किसी भी राज्य में अपने हिसाब से जांच कार्य कर सकती है. कोर्ट से एक बार आदेश मिलने के बाद सीबीआई पूरी तरह से अपने नियंत्रण में जांच कार्य करती है.

सीबीआई के वर्तमान निदेशक

सीबीआई को चलाने के लिए एक निदेशक नियुक्त किया जाता है. निदेशक बनने के लिए स्तर की योग्यता वाला सीबीआई ऑफीसर चुना जाता है. वर्तमान समय में सीबीआई के डायरेक्टर अथवा क्राइम ब्रांच मुख्य के पद पर IPS ऋषि कुमार शुक्ला नियुक्त है.

सीबीआई ऑफिसर कैसे बनते हैं?

सीबीआई (CBI) में रुचि रखने वाले लोग जो ऑफिसर बनना चाहते हैं अथवा सीबीआई से जुड़कर कार्य करना चाहते हैं यहां पर हम उनके लिए कुछ आवश्यक जानकारी देने जा रहे हैं.

बेशक सीबीआई सरकारी संस्था है इसलिए इसमें जॉब करने पर आपका सरकारी नौकरी करने का सपना भी पूरा हो जाएगा और इसके साथ ही यदि आप इस में रुचि रखते हैं तो आपको अलग ही आनंद मिलेगा.

सीबीआई की भर्ती अलग अलग पोस्ट पर होती है और इसकी प्रोसेस दो भागों में होती है. पहले मैं आपको एसएससी के द्वारा चयनित किया जाता है और दूसरी प्रक्रिया में यह Deputation  के द्वारा भर्ती की जाती है.

डेपुटेशन का मतलब होता है यदि आप उस केंद्र अथवा राज्य की पुलिस या किसी अन्य महत्वपूर्ण सर्विस में पहले से ही नौकरी कर रहे हैं तो आप वहीं से सीधे सीबीआई में भर्ती हो सकते हैं सीबीआई में सीधी भर्ती सिर्फ सब इंस्पेक्टर रैंक के लिए ही होती है.

सीबीआई जॉइन करने के लिए शैक्षिक योग्यता

CBI officer बनने के लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन यानी बैचलर की डिग्री में न्यूनतम 55% अंक के साथ उत्तीर्ण होना आवश्यक है. इसके बाद उम्मीदवार एसएससी की सीजीएल परीक्षा को उत्तीर्ण करके सीबीआई ऑफिसर बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं.

आयु सीमा

सरकार की किसी भी विभाग में नियुक्ति पाने के लिए आयु सीमा के मानकों को पूरा करना आवश्यक होता है. आपकी आयु एक निश्चित आयु सीमा के भीतर होनी चाहिए उसी तरह सीबीआई में नियुक्ति के लिए इच्छुक उम्मीदवारों की आयु सीमन निम्नलिखित दी गई है.

  • न्यूनतम आयु = 20 वर्ष
  • अधिकतम आयु (Gen) = 30 वर्ष
  • अधिकतम आयु (OBC) = 33 वर्ष
  • अधिकतम आयु (sc/st) = 35 वर्ष

आयु सीमा के भीतर आने वाले उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं.

CBI Sub Inspector Exam Pattern

CBI में Officer या सब इंस्पेक्टर बनने के लिए आपको स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा आयोजित सीजीएल की परीक्षा को पास करना होता है. यह परीक्षा 4 चरणों में आयोजित की जाती है. जिनके बारे में नीचे जानकारी दिए गए हैं.

टियर 1 – इस चरण में आपको 100 प्रश्नों के उत्तर देने होते हैं जिनमें आपको अधिकतम 200 अंक मिलते हैं. हल करने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है.

  • सामान्य बुद्धि और तर्क ( जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग) = 50 अंक
  • सामान्य जागरूकता ( जनरल अवेयरनेस) = 50 अंक
  • मात्रात्मक योग्यता = 50 अंक
  • अंग्रेजी ( इंग्लिश) = 50 अंक

टियर 2 – इस चरण में 400 अंकों के दो पेपर होते हैं. प्रत्येक पेपर को हल करने के लिए दो 2 घंटे का समय मिलता है. पहले पेपर में क्वांटिटेटिव एलिजिबिलिटी से संबंधित 200 अंकों के 100 प्रश्न पूछे जाते हैं और दूसरे पेपर में अंग्रेजी के ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते हैं.

टियर 3 – इसमें पुरुष उम्मीदवारों का पर्सनैलिटी टेस्ट होता है और वर्णनात्मक लिखित परीक्षा अथवा डिस्क्रिप्टिव रिटन टेस्ट परीक्षा ली जाती है.

टियर 4 – चौथे चरण में उम्मीदवार अपनी कंप्यूटर प्रवीणता परीक्षण से संबंधित परीक्षा देता है और दस्तावेज सत्यापन को पूर्ण करता है.

इस प्रकार यह परीक्षा पूर्ण होती है.

CBI officer कितनी सैलरी प्राप्त करता है?

यह मुख्य सवालों में से एक सवाल है, सभी जानना चाहते हैं कि CBI officer को कितनी सैलरी मिलती है. वर्तमान की गणना के अनुसार सीबीआई ऑफीसर की सैलेरी ₹9300 से 34800 रुपए के बीच होती है इसी में 4200 रुपए अतिरिक्त ग्रेड पे और भत्ते के रूप में प्राप्त होते हैं.

निष्कर्ष

इस लेख में आपको विस्तार से “सीबीआई ऑफिसर कैसे बनते हैं और ऑफिसर बनने के लिए क्या योग्यताएं आवश्यक हैं और किन परीक्षाओं को देना होता है” के बारे में बताया गया है. यह जानकारी निश्चित रूप से आपके ज्ञान में वृद्धि करने के लिए है.

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

Leave A Reply

Your email address will not be published.